(Last Updated On: April 12, 2020)

Value of Practice

यह छोटी सी घटना आपको यह बताएगी की अभ्यास आपके लिए कितना आवश्यक है|

महान वायलिनवादक फ्रिट्ज क्रिस्लर (Fritz Kreisler) से किसी ने पूछा,

“आप इतना अच्छा वायलिन कैसे बजा लेते है? क्या यह भाग्य की देंन है?”

उन्होंने जवाब दिया “यह अभ्यास का नतीजा है |

अगर मै एक महीने तक अभ्यास न करूँ , तो मेरे वायलिन बजाने में आए फर्क को मेरे श्रोता महसूस कर सकते है|

अगर मै एक सप्ताह तक अभ्यास न करूं, तो मेरी पत्नी फर्क बता सकती है |

और अगर मै एक दिन तक अभ्यास न करूं, तो मै खुद फर्क बता सकता हूँ |”

अतः लगातार कोशिश करते रहने के आगे कुछ भी नही टिक सकता |

ऐसा क्यों है? की बहुत सारे प्रतिभाशाली लोग असफल है|

इस बात को समझने के लिए यह जानना होगा :-

की किसी ब्यक्ति में प्रतिभा है| मगर लगातार अभ्यास व दृढ़ इच्छा से अपने प्रतिभा को निखारनेबेहतर बनाने की खाश बात नही है तो वह अपने प्रतिभा के बल पर खुद को सफल नही बना सकता |

Leave a Reply

error: VedantSri Content is protected !!